ये फोटोग्राफर दिखा रही है भारतीय महिलाओं की जिंदगी, देखकर तारीफ करेंगे

41

इस दुनिया में कई तरह के फोटोग्राफर मौजूद हैं कोई प्रकृति को अपने कैमरे में कैद करते हैं तो कोई शहर की खूबसूरती को कैद करते हैं. हम आपको एक महिला फोटोग्राफर के बारे में बताते हैं जो महिलाओं की स्थिती को अपने कैमरे में कैद किया है.

Source

कौन है ये महिला 

मुंबई की रहने वाली महिला फोटोग्राफर दीप्ति आस्थाना ने फोटो सीरीज के जरिए भारत में ग्रामीण महिलाओं की जिन्दगी को दिखाने की कोशिश की है. ‘वुमन ऑफ इंडिया’ (WOI) नामक प्रोजेक्ट के लिए उन्होंने कई सालों तक देश के अलग-अलग हिस्सों का दौरा किया और महिलाओं से बातचीत कर उनके हालात के बारे में जाना.

दीप्ति ने बताया ‘वे एक सेल्फ लर्नर फोटोग्राफर हैं और उन्हें छोटी उम्र से फोटोग्राफी का शौक था’. जब उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई शुरू की तो लक्ष्य किया की फोटोग्राफी में ही अपनी करियर बनाएंगी. फोटोग्राफी की शुरुआत ‘वुमन ऑफ इंडिया’ नाम प्रोजेक्ट से किया.

Source

इस प्रोजेक्ट की खास बात है 

इस प्रोजेक्ट में दीप्ति बताती हैं कि ये मेरा पर्सनल प्रोजेक्ट है. इसलिए मैंने भारतीय ग्रामीण इलाके को चुना है. भारत में महिलाओं की स्थिति काफी दयनीय है. खासकर ग्रामीण इलाकों में जहां ज्यादातर महिलाएं दमन की शिकार हैं. वो अपने प्रोजेक्ट जरिए उनकी हालत को बदलने की कोशिश करेंगी.

महिला से इसके बारे में बात करने पर मिला ऐसा जवाब 

जब उन्होंने ग्रामीण महिलाओं से उनकी हालत के बारे में बात की तो जवाब काफी निराशाजनक मिला. परिवार और समाज के दवाब के कारण ज्यादातर महिलाओं की हालत बहुत बुरी है. दीप्ति बताती हैं, “प्रोजेक्ट के सिलसिले में जब वो गुजरात के मीठापुर साल्ट प्लांट पहुंची तो उनकी मुलाकात एक 12 साल की लड़की भारती से हुई. मैंने देखा कि इतनी कम उम्र में वो लड़की एक बड़े से बकेट में नमक भरकर ट्रैक्टर पर रख रही थी”.

Source

दीप्ती के अनुसार, उसके हाथ में दर्द हो रहे थे, लेकिन वो लगातार काम किए जा रही थी और जब भी मुझसे उसकी नजर मिलती वो मुस्कुरा देती. जब उन्होंने भारती से बात की तो उसने बताया कि परिवार का गुजर बसर करने का यही एक जरिया है.”

- Advertisement -

You might also like

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.